(All Shayari Collection)


छोड़ो गिले सिक्वे, बोलो मीठी बोली
भर के पिचकारी आई मस्तो की टोली
मेरे दोस्त मेरे हमजोली
मुबारक हो होली!