(All Shayari Collection)

अजीब तमाशा है मिट्टी के बने लोगों का यारो,
बेवफ़ाई करो तो रोते है और वफ़ा करो तो रुलाते है…


मेरा दर्द किसी की हसने की वजह जरुर बन सकता है!
लेकिन मेरी हसी किसी के दर्द की वजह नहीं बननी चाहिए!


कुछ पत्थरों में भी फूल खिल जाते है,
कुछ अनजाने भी अपने बन जाते है,
कुछ लाशों को कफ़न नसीब नहीं होता,
और कुछ लाशों पर ताज महल बन जाते है |


shayari

चाँद की महफ़िल में अनजाने मिल गए,
हमने देखा तो सब जाने पहचाने मिल गए,
मैं बढता गया सच्च के रस्ते पर,
वहीँ पर मुझे सभ खजाने मिल गए |


बैठे बैठे ज़िन्दगी बरबाद ना की जिए,
ज़िन्दगी मिलती है कुछ कर दिखाने के लिए,
रोके अगर आसमान हमारे रस्ते को,
तो तैयार हो जाओ आसमान झुकाने के लिए |


shayari

क्या बनाने आये थे और क्या बना बैठे
कहीं मंदिर बना बैठे तो कहीं मस्जिद बना बैठे
हमसे तो जात अछि उन परिंदों की
जो कभी मंदिर पे जा बैठे तो कभी मस्जिद पे जा बैठे


चंपा के दस फुल, चमेली की एक कली,
मुरख की सारी रात, चतुर की एक घडी!


ज़िन्दगी हसीन है ज़िन्दगी से प्यार करो,
है रात तो सुबह का इंतज़ार करो,
वोह पल भी आयेगा जिसका इंतज़ार है आपको,
बस रब पर भरोसा और वक़्त पर ऐतबार करो |


हम हवा नही जो खो जाएँगे,
वक़्त नही जो गुज़र जाएँगे,
हम मौसम नही जो बदल जाएँगे,
हम तो आँसू है जो खुशी और गम दोनो मे साथ निभाएँगे.


सपने वो नही जो नींद मे आए,
सपने वो हे जिसे पूरे किए बिना नींद ना आए.